होमसमाचारकल होगा स्पीकर पद का चुनाव

कल होगा स्पीकर पद का चुनाव

लोकसभा स्पीकर (Loksabha Speaker) के चुनाव पर अपडेट 

Loksabha Speaker Election: स्पीकर के चुनाव पर हलचल बढ़ गई है। कल सुबह 11:00 बजे स्पीकर पद का चुनाव होगा। स्पीकर के चुनाव के लिए एक तरफ वर्तमान स्पीकर ओम बिरला उम्मीदवार है तो दूसरी तरफ 18वीं लोकसभा के सबसे सीनियर और आठ बार सांसद रह चुके के सुरेश है।

Loksabha Speaker

आज 12:00 बजे नामांकन का आखिरी समय था और कल 11:00 बजे चुनाव होगा। ऐसा माना जा रहा था कि सर्वसम्मति से ओम बिरला दूसरी टर्म से भी चुन लिए जाएंगे और विपक्ष का डिप्टी लोकसभा स्पीकर (Loksabha Speaker) होगा। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि कल जब राजनाथ सिंह ने ओम बिरला के लिए मल्लिकार्जुन खड़गे से समर्थन मांगा था तो मल्लिकार्जुन खड़गे ने साफ कर दिया था कि अगर विपक्ष को डिप्टी लोकसभा स्पीकर (Loksabha Speaker) का पद मिलेगा तो वह ओम बिरला को समर्थन देने के लिए तैयार हैं।

यह भी पढ़ें – स्पीकर के पद को लेकर राहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना

राहुल गांधी ने कहा कि राजनाथ सिंह ने रिटर्न कॉल करने को कहा था लेकिन अध्यक्ष के पास कोई रिटर्न कॉल नहीं आई। वही राजनाथ सिंह ने पलटवार करते हुए कहा कि वह मल्लिकार्जुन खड़गे से कल से तीनजीचार बार बात कर चुके हैं। के सुरेश आठ बार सांसद रह चुके हैं और इनका नाम प्रोटेम स्पीकर के लिए भी सुझाया गया था।

राहुल गांधी ने कहा, “नियत साफ नहीं है, नरेंद्र मोदी जी कोई कंस्ट्रक्टिव कॉरपोरेशन नहीं चाहते हैं क्योंकि कन्वेंशन है कि डिप्टी लोकसभा स्पीकर (Loksabha Speaker) अपोजिशन का होना चाहिए और पूरे अपोजिशन ने कहा है कि अगर कन्वेंशन फॉलो किया जाएगा तो पूरा समर्थन स्पीकर इलेक्शन में हम देंगे। वहीं राजनाथ सिंह का बयान आया है, “जहां तक खड़गे जी का प्रश्न है, मैं उनका सम्मान करता हूं और कल से लेकर आज तक तीन बार हमारी बात हुई है।

Om Birla vs K Suresh

वहीं केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने विपक्ष पर पलटवार किया और कहा, “पहले लोकसभा का उपाध्यक्ष कौन होगा वह तय करें फिर अध्यक्ष के लिए समर्थन मिलेगा।

इस प्रकार की राजनीति की हम निंदा करते हैं और मुझे लगता है कि अच्छी परंपरा यह है कि लोकसभा निर्विरोध एक सर्वसम्मति से अध्यक्ष चुनता तो लोकसभा की भी मर्यादा बनी रहती। सभी पक्षों का उसमें योगदान रहता और लोकसभा स्पीकर (Loksabha Speaker) वैसे भी किसी सत्ताधारी पार्टी और विपक्ष का नहीं होता वह पूरे संसद का होता है।

कल होगा स्पीकर पद का चुनाव – Tweet This?

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -
Sidebar banner

Most Popular

Recent Comments