होमसमाचारमणिपुर में पेट्रोल 170 का लीटर, 1800 में बिक रहा रसोई गैस,...

मणिपुर में पेट्रोल 170 का लीटर, 1800 में बिक रहा रसोई गैस, जानिए क्यों?

इस महीने की शुरुआत में फैली हिंसा के चलते मणिपुर में आर्थिक संकट पैदा हो गया है। राज्य के बाहर से सामानों का आयात प्रभावित हुआ है, इस वजह से राज्य के अंदर जरूरी सामान दोगुनी कीमत पर मिल रहे हैं। मणिपुर के ज्यादातर इलाकों में सिलिंडर, पेट्रोल, चावल, आलू, प्याज और अंडे जैसे ज़रूरी सामान तय कीमत से बहुत ज्यादा कीमत पर बिक रहे हैं।

PTI की रिपोर्ट के मुताबिक, इम्फाल वेस्ट डिस्ट्रिक्ट की एक स्कूल टीचर मांगलेम्बी चनम ने बताया, “पहले चावल की 50 किलो की बोरी 900 रुपये में मिलती थी, पर ये अब 1800 रुपये में मिल रहा है। आलू-प्याज़ के दाम भी 20-30 रुपये बढ़ गए हैं। हर वो सामान जो राज्य के बाहर से लाया जाता है, उसकी कीमत बढ़ी हुई है।

आलू 100 रुपये किलो तक में बिका

चनम ने बताया कि ब्लैक मार्केट में एक गैस सिलिंडर 1800 रुपये का मिल रहा है, वहीं कई इलाकों में पेट्रोल की कीमत 170 रुपये प्रति लीटर हो गई है। उन्होंने बताया, अंडों की कीमत भी बढ़ गई है। 30 अंडों का एक क्रेट 180 रुपये में मिल जाता है, पर अभी 300 रुपये में मिल रहा है। उनका कहना है कि एसेंशियल आइटम्स से भरे ट्रक्स सिक्योरिटी फोर्सेस की कड़ी निगरानी में रखे गए हैं, नहीं तो कीमतें और ज्यादा बढ़ सकती थीं। उन्होंने बताया कि सिक्योरिटी फोर्सेस के आने से पहले आलू की कीमत 100 रुपये प्रति किलो हो गई थी।

मणिपुर में नॉर्मैल्सी रिस्टोर करने के लिए आर्मी और पैरा मिलिट्री फोर्सेस के 10 हजार जवानों की तैनाती की गई है।

Manipur Violence, Manipur Violence news, Manipur Violence news in hindi, Manipur Violence reason, Manipur Violence 2023, Manipur Violence news today, Manipur Violence live, Manipur Violence live update, Manipur Violence live news, Manipur Violence photos, Manipur Violence video, Manipur Violence explained, Manipur Violence kya hai,Manipur Violence kyu hua, मणिपुर हिंसा, मणिपुर हिंसा वजह, मणिपुर हिंसा क्यों हुआ, मणिपुर हिंसा मैतई समाज, मणिपुर हिंसा की ताजा जानकारी

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -
Sidebar banner

Most Popular

Recent Comments