होमसमाचारनीट की चर्चा की मांग पर दोनो सदनों में जोरदार हंगामा

नीट की चर्चा की मांग पर दोनो सदनों में जोरदार हंगामा

नीट पर चर्चा करने पर दोनों सदनों में जोरदार हंगामा हुआ। विपक्ष लोकसभा और राज्यसभा दोनों सदन में नीट के मुद्दे को लेकर अड़ा हुआ है। कांग्रेस का आरोप है कि नीट का मुद्दा उठाने पर राज्यसभा में मल्लिकार्जुन खड़गे और लोकसभा में राहुल गांधी का माइक बंद कर दिया गया था। कांग्रेस सांसद दीपेंद्र हड्डा ने कहा, “देश के युवाओं का भविष्य लगातार पेपर लीक की घटनाओं से बर्बाद हो रहा है। पेपर लीक के मामले हरियाणा में देखे गए हैं। नीट परीक्षा का पेपर लीक हुआ है और केंद्रीय शिक्षा मंत्री अपनी जिम्मेदारी से भाग रहे हैं। हम इस मुद्दे पर चर्चा करना चाहते हैं और जब इस मामले को सदन में उठाया गया तो माइक बंद कर दिया गया। अगर नेता विपक्ष का माइक बंद किया जाएगा तो इससे विपक्षी सांसद में नाराजगी होगी और सदन में यही हुआ है। हम चाहते हैं इस पर चर्चा होनी चाहिए।” कांग्रेस ने अपने आधिकारिक हैंडल से सोशल मीडिया एक्स पर लिखा, “जहां एक ओर नरेंद्र मोदी नीट पर कुछ नहीं बोल रहे उस वक्त विपक्ष के नेता राहुल गांधी युवाओं की आवाज सदन में उठा रहे हैं। लेकिन ऐसे गंभीर मुद्दे पर माइक बंद करने जैसी ओछी हरकत करके युवाओं की आवाज को दबाने की साजिश रची जा रही है।” पेपर लीक मामले में कांग्रेस ने ट्वीट किया, “पेपर लीक मामले पर सरकार खुद तो खामोश है लेकिन अब वह पेपर लीक पर विरोध में उठने वाली आवाज को भी दबा रही है।” संसदीय कार्य मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा, “हम मुद्दे जो भी उठाएंगे उनकी हम विस्तृत रूप से जानकारी देंगे। संसद में बात रखेंगे। सदस्य को हम आगे भी भरोसा देते हैं कि सरकार चर्चा के लिए हमेशा तैयार है। लेकिन सदन को रोक करके सदन को चलने नहीं देना का जो रवैया अपनाया है यह कांग्रेस पार्टी ने सही नहीं किया है। और परंपरा को तोड़ने का काम जो कांग्रेस ने किया है मैं उसका खंडन करता हूं और ऐसा दोबारा नहीं होना चाहिए इसकी मैं अपील करता हूं।” गिरिराज सिंह ने भी कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा, “मेरा मानना है कि कांग्रेस और राहुल गांधी का रवैया तानाशाही रवैया है। एक प्रक्रिया होती है राष्ट्रपति के अभिभाषण के बीच में कोई स्थगन प्रस्ताव नहीं स्वीकृत होता है। उनको कहा गया स्पीकर की ओर से जब आपकी बारी आएगी तो उसे समय नीट पर भी बोलना लेकिन उनकी तो जिद है, मैंने कह दिया तो वह क्यों नहीं हुआ और कांग्रेस इसी लहजे में संसद को गिरवी रखना चाहता है।”

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -
Sidebar banner

Most Popular

Recent Comments