होमसमाचारलगातार 4 हमले से दहला जम्मू कश्मीर

लगातार 4 हमले से दहला जम्मू कश्मीर

जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) में चार आतंकी हमले 

पिछले कुछ दिनों में जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) में लगातार चार हमले हुए हैं। 9 जून को रियासी, में 11 जून को डोडा में, 11 जून को कठुआ में और 12 जून को फिर से डोडा आतंकियों ने हमला किया। डोडा में पुलिस ने चार आतंकियों के स्केच जारी कर दिए हैं। डोडा में हमला 12 जून को 8:20 पर हुआ था।

इस हमले में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई। हमले में एक एसओजी जवान घायल हो गया। वहीं 11 जून कि हमले की बात करें तो यह हमला जम्मू (Jammu Kashmir) के डोडा में रात 1 से 2:00 बजे के बीच में हुआ। यहां पर भद्रवाह-पठानकोट में चार राष्ट्रीय राइफल पुलिस की जॉइंट चेक पोस्ट पर आतंकवादियों ने फायरिंग की है। इस हमले में पांच जवान और एक एसपीओ घायल हो गए। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन कश्मीर टाइगर्स (जेईएम/जैश) ने ली है।

बता दे कि हमले से पहले एलओसी (LOC) से लगे गांव में कुछ लोगों से आतंकियों ने पानी मांगा। जब स्थानीय ग्रामीण लोगों को शक हुआ तो उन लोगों ने शोर मचाना शुरू कर दिया इस दौरान आतंकियों ने फायरिंग की जिसमें एक ग्रामीण घायल हो गया। जब मौके पर डीआईजी-एसएसपी पहुंचे तो आतंकियों ने उनकी गाड़ी पर भी फायरिंग की।

बात करें 9 जून को हुई रियासी हमले की, तो 9 जून को आतंकवादियों ने शिवखोड़ी से कटरा जा रही बस पर हमला किया। बस पर जोरदार फायरिंग की। फायरिंग के दौरान बस ड्राइवर की मौत हो गई और बस खाई में गिर गई। खाई में बस गिरने के बाद भी आतंकवादियों ने लगातार फायरिंग जारी रखा जिसमें 10 लोगों की मौत और 40 लोग घायल हो गए। 10 लोगों में एक 3 साल का बच्चा भी शामिल था।

स्केच जारी करके आतंकवादियों की तलाश जारी है । एक के बाद एक जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) पर लगातार हमले हुए हैं। अब आतंकवादियों के खात्मे के लिए सेना ऑपरेशन चला रही है। हमलों के बाद वैष्णो देवी के रूट की सुरक्षा बढ़ाने के साथ कुछ बदलाव भी हुए हैं। रियासी से कटरा के 30 किलोमीटर मार्ग पर सुरक्षा कर्मियों की संख्या बढ़ा दी गई है। इस रूट पर जो भी बस चलेंगी उसमें कम से कम दो सुरक्षाकर्मी तैनात रहेंगे। रियासी से कटरा के बीच पांच और जगह पर बैरक बनाया जा रहा है।

खुफिया इनपुट के मुताबिक अगले कुछ दिनों में सरहद पार से आए आतंकी बड़े आतंकी हमले को अंजाम दे सकते हैं। आतंकियों के निशाने पर सुरक्षा बलों से जुड़ी इमारतें भी हो सकती हैं।

लगातार 4 हमले से दहला जम्मू कश्मीर – Tweet This?

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -
Sidebar banner

Most Popular

Recent Comments