Monday, May 20, 2024
होमNewsTerrorists ने वायुसेना के वाहनों पर अंधाधुंध गोलियां बरसाईं

Terrorists ने वायुसेना के वाहनों पर अंधाधुंध गोलियां बरसाईं

वायुसेना वाहनों पर Terrorists हमला 

एक अत्यंत गंभीर घटना की जानकारी मिल रही है, जहां सुरक्षाबलों ने आतंकियों (Terrorists) को निहारते हुए अभियान चलाया है। पुंछ में हुए इस हमले के बाद संदिग्ध देखे जाने के बाद दो दिनों से इलाके में तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। वरिष्ठ अधिकारी मौके पर डटे हुए हैं और सुरक्षा के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए गए हैं। पुंछ शहर में यह तीसरी बार है जब आतंकियों ने सैन्य वाहनों को निशाना बनाया है।

पुंछ जिले के सुरनकोट इलाके में शनिवार शाम को आतंकियों (Terrorists) ने एयरफोर्स के काफिले पर हमला किया। हमले के दौरान आतंकियों ने एक वाहन को निशाना बनाया और अंधाधुंध गोलियां चलाईं। धरने के बावजूद, किसी भी नुकसान की रिपोर्ट नहीं है। एयरफोर्स के प्रवक्ता ने बताया कि हमला शाहसितार इलाके में हुआ था और काफिला पूरी तरह सुरक्षित है। स्थानीय सैन्य इकाइयों ने सर्च ऑपरेशन शुरू किया है और मामले की जांच जारी है।

पुंछ शहर में आतंकियों द्वारा किए गए हमले के बाद सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान चलाया है। इस घटना में आतंकियों ने सैन्य वाहनों पर हमला किया, जिसमें एयरफोर्स के दो वाहन संदिग्ध हो गए। घटना के दौरान आतंकियों (Terrorists) ने वाहन को निशाना बनाकर अंधाधुंध फायरिंग की। सुरक्षा बलों ने त्वरित कदम उठाते हुए मौके पर जाँच शुरू की है। अतिरिक्त सतर्कता के साथ सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके को घेर रखा है।

ज्ञात हुआ कि पहले आतंकियों ने 12 जनवरी को कृष्णा घाटी इलाके में सैन्य वाहनों पर हमला किया था, जिसमें चार जवान बलिदान हो गए थे। इसके पूर्व 22 दिसंबर 2023 को डेरा की गली इलाके में भी सैन्य वाहनों पर हमला किया गया था। अब यह तीसरा हमला है। इन तीन हमलों में चार जवान बलिदान हो गए हैं, जबकि कई जवान घायल हुए हैं।

पुंछ में दिसंबर से हुए तीनों हमलों की मॉडस ऑपरेंडी एक है। प्राथमिक जानकारी के मुताबिक, पहले से घात लगाए आतंकियों (Terrorists) द्वारा रात्रि के समय सैन्य वाहनों पर हमले किए जा रहे हैं। ये हमले जंगल में हो रहे हैं और इसके बाद आतंकी जंगलों में छिपकर भाग जा रहे हैं। आतंकी अंधेरे का फायदा उठाते हुए जंगल में दूर तक निकल जा रहे हैं।

Terrorists ने वायुसेना के वाहनों पर अंधाधुंध गोलियां बरसाईं – Tweet This?

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -
Sidebar banner

Most Popular

Recent Comments