Monday, May 20, 2024
होमNewsराहुल में नहीं है कोई फायर, कांग्रेस जरूर आग से खेल रही...

राहुल में नहीं है कोई फायर, कांग्रेस जरूर आग से खेल रही है: राजनाथ सिंह

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साधा है। राजनाथ ने कहा कि राहुल में कोई आग नहीं है, जबकि उनकी पार्टी चुनावी लाभ के लिए हिंदू-मुस्लिम विभाजन पैदा करने का प्रयास कर आग से खेल रही है।

तीसरी बार सत्ता में आने पर लागू करेंगे यूसीसी: राजनाथ सिंह

पीटीआई को दिए एक साक्षात्कार में राजनाथ सिंह ने यह भी संकेत दिया कि अगर भाजपा लगातार तीसरी बार सत्ता बरकरार आती है तो वह समान नागरिक संहिता (यूसीसी) को लागू करने और ‘वन नेशन वन इलेक्शन’ को लागू करने जैसी अपनी बड़ी योजनाओं को लागू करेगी।

NDA को मिलेंगी 400 से ज्यादा सीटें

रक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि उन्हें पक्का भरोसा है कि एनडीए को 400 प्लस सीटें मिलेंगी और भाजपा 370 से अधिक सीटें पाएगी। राजनाथ ने कहा कि ये अनुमान जमीनी स्थिति के मूल्यांकन के बाद लगाए गए हैं, न कि कोई हवाहवाई बाते हैं।
रक्षा मंत्री ने कांग्रेस पर सामाजिक सद्भाव को बिगाड़ने और धार्मिक आधार पर तनाव पैदा करने की कोशिश करने का भी आरोप लगाया।
राजनाथ सिंह ने कहा कि कांग्रेस धार्मिक आधार पर तनाव पैदा करने की कोशिश कर रही है। उन्होंने आगे कहा, कांग्रेस सामाजिक सौहार्द बिगाड़ना चाहती है। वे मुस्लिम समुदाय को केवल वोट बैंक के रूप में देखते हैं। मेरा उनके लिए एक सुझाव है- राजनीति केवल सरकार बनाने के लिए नहीं की जानी चाहिए। राजनीति का उद्देश्य राष्ट्र निर्माण होना चाहिए।

देश को मोदी पर भरोसा

राजनाथ ने आगे कहा कि देश के लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अपना भरोसा जताएंगे और पिछले पांच वर्षों में सरकार के प्रदर्शन के आधार पर भाजपा अब और सीटें जीतेगी। राजनाथ ने कहा कि इस बार हमारी उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में सीटें बढ़ेंगी और हमें तमिलनाडु में कुछ सीटें मिलेंगी।
रक्षा मंत्री ने कहा कि कांग्रेस भय का माहौल पैदा करना चाहती है, वे हिंदू-मुस्लिम कार्ड का इस्तेमाल करना चाहते हैं।

राहुल में नहीं है कोई फायर, कांग्रेस जरूर आग से खेल रही है: राजनाथ सिंह – Tweet This?

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -
Sidebar banner

Most Popular

Recent Comments