Wednesday, April 17, 2024
होमNewsDelhi: एक तरफ नए संसद भवन का उद्घाटन, दूसरी ओर महिला महापंचायत,...

Delhi: एक तरफ नए संसद भवन का उद्घाटन, दूसरी ओर महिला महापंचायत, दिल्ली पुलिस क्या करेगी?

Delhi: भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ जंतर-मंतर पर पहलवान विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। लेकिन अभी तक बृजभूषण सिंह की गिरफ्तारी नहीं की गई है। जिसको लेकर जींद के खटकड़ टोल पर आज खाप पंचायतें एकजुट होने वाली हैं। इसके लिए खटकड़ टोल पर बड़े स्तर पर तैयारियां की गई हैं। पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक, विनेश फोगाट, साक्षी मलिक, बजरंग पूनिया को खाप पंचायतें उनके पक्ष में न्याय दिलवाने की मांग करेगी. खटकड़ टोल पर 8 एकड़ में टेंट, पार्किंग और खाने की व्यवस्था की गई है।

नए संसद भवन के सामने 28 मई को महिला महापंचायत महज घोषणा भर नहीं है। हरियाणा में उसकी पूरी तैयारी दिखाई दे रही है। 28 मई को प्रधानमंत्री मोदी नए संसद भवन का उद्घाटन करने वाले हैं तो ऐसे में वहां बड़े पैमाने पर सुरक्षा रहेगी। महिला महापंचायत को रोकने के लिए दिल्ली पुलिस ने अभी तक कोई ऐलान नहीं किया है लेकिन जिस तरह से हरियाणा के गांव-गांव में दिल्ली आने का न्यौता दिया जा रहा है, वह महत्वपूर्ण घटनाक्रम है। किसान नेता राकेश टिकैत ने लोगों से भारी तादाद में 28 मई को महिला महापंचायत में आने की अपील की है।

गांवों में जाकर दिया गया है न्यौता

इस महापंचायत में शामिल होने के लिए जिले के गांवों में जाकर न्यौता दिया गया है। इस महापंचायत में 22 से अधिक खापों से महिला और पुरुष शामिल होने वाले हैं। माना जा रहा है कि इस महापंचायत में खाप पंचायतों द्वारा कोई बड़ा फैसला लिया जा सकता है। महापंचायत में खिलाड़ियों के पक्ष में आंदोलन को तेज करने की रणनीति को लेकर फैसला किया जा सकता है। खटकड़ टोल कमेटी के आयोजन को लेकर पूनम कंडेला ने कहना है कि महापंचायत में देश की बेटियों के समर्थन के लिए महिलाओं की भागीदारी भी अधिक रहने वाली है। किसान नेता राकेश टिकैत ने लोगों से भारी तादाद में 28 मई को महिला महापंचायत में आने की अपील की है।

महिला पहलवानों के धरने को आज जंतर मंतर पर 33 वां दिन है। भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष और भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह पर 7 महिला पहलवानों ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। सुप्रीम कोर्ट के हस्तक्षेप पर दिल्ली पुलिस ने महिला पहलवानों की अर्जी पर भाजपा सांसद के खिलाफ एफआईआर दर्ज की। सांसद पर पॉक्सो एक्ट भी लगाया गया। लेकिन दिल्ली पुलिस ने अभी तक उनकी गिरफ्तारी नहीं की है। उल्टा बृजभूषण शरण ने विनेश फोगाट, साक्षी मलिक और बजरंग पुनिया का नार्को टेस्ट कराने की मांग कर डाली।

इस चुनौती को स्वीकार करते हुए तीनों पहलवानों का जवाबी बयान आया कि वो सुप्रीम कोर्ट की देखरेख अपना लाइव नार्को टेस्ट कराना चाहेंगे। इसके बाद भाजपा सांसद बृजभूषण शरण खामोश हो गए। अलबत्ता उनके आपत्तिजनक वीडियो महिला पहलवानों के बारे में सामने आए हैं।

RELATED ARTICLES

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -
Sidebar banner

Most Popular

Recent Comments